Breaking News

मनरेगा कर्मियों ने हल्ला बोल कार्यक्रम कर मनरेगा कमिश्नर व सरकार का किया विरोध, की नारेबाजी

  • मनरेगा के सभी कार्य पूरी तरह से बाधित

जामताड़ा।मनरेगा कर्मियों ने सरकार व मनरेगा कमिश्नर के विरुद्ध नारेबाजी की। जामताड़ा के बेना मैदान में हल्ला बोल कार्यक्रम का आयोजन किया गया। बेना मैदान से रैली निकलकर गोविंदपुर साहेबगंज सड़क तक पहुंचा। पुनः बेना मैदान पहुंच कर रैली को समाप्त किया। इस दौरान अपनी मांगों के विरुद्ध सरकार एवं मनरेगा कमिश्नर के विरुद्ध नारेबाजी की।
जिलाध्यक्ष नरेश सिन्हा ने कहा कि मनरेगा के सभी कार्य पूरी तरह से बाधित है। अपनी नाकामी को छुपाने के लिए मनरेगा कमिश्नर ने सभी बीडीओ से जबरन डिमांड आवेदन संग्रह कराकर केंद्र सरकार को ये दिखाने की कोशिश करते हैं कि यहां हड़ताल से कोई असर नही है। लेक8न सरजमीं पर मनरेगा सिर्फ कागज कलम पर चल रहा है। मजदूरों को कोई काम नही मिल रहा है। मजदूरो का पलायन हो रहा है। मनरेगा कर्मिननकी हड़ताल से बागवानी, वाटर हार्वेस्टिंग की योजनाएं पूरी तरह से बाधित है।

केंद्र से मिलनेवाली कंटीजेंसी की सिर्फ  लूट

मनरेगा कर्मचारी संघ जे जिलाध्यक्ष नरेश सिन्हा ने कहा कि मनरेगा कमिश्नर सिर्फ केंद्र से मिलने वाली 6 प्रतिशत कंटीजेंसी के लिए केंद्र सरकार को गलत रिपोर्टिंग करते हैं। कॉन्टिजेंसी की सिर्फ लूट ही होती है। सोशल ऑडिट के नाम पर वाउचर से राशि की निकाशी कर ली जाती है। कहा मनरेगा कर्मचारियों के हड़ताल की रिपोर्ट मनरेगा कमिश्नर द्वारा केंद्र को नही किया गया है। रिपोर्ट होने से 6 प्रतिशत कॉन्टिजेंसी रोक दी जाएगी।

खाद की आपूर्ति के नाम पर लूट

जिलाध्यक्ष नरेश सिंह ने अरोप लगाया की मनरेगा योजनाओं में खाद व्यवहार के लिए कई कंपनियों को टेंडर दिया है। लेकिन कमीशन खोरीबके कारण खाद भी असली नही आपूर्ति की गई। घटिया किस्म का खाद की आपूर्ति की गई है। जो व्यवहार के लायक नही है।

अल्प मानदेय पर परिवार चलना मुश्किल

कहा कि जिस प्रकार से मनरेगा कमिश्नर ने कहा कि कर्मियों को बीमा से लेकर हर प्रकार की सुविधा दी जा रही है। लेकिन एक बात सौचने की है कि यदि हमें ये सब सुविधा मिलती तो आज हड़ताल पर जाने की जरूरत नही पड़ती। उस महामारी में जान जोखिम में डाल कर डयूटी किया, लेकिन कोई सुविधा नही मिली। कहा कि अब कमिश्नर की पोल खोला जाएगा। हर गांव, पंचायत में हल्ला बोल कार्यक्रम का आयोजन कर ग्रामीणों को जागरूक किया जाएगा। मनरेगा कमिश्नर के झूठ के पोल खोला जाएगा।

मौके पर ये थे मौजूद

इस अवसर पर मुख्य रूप से जिला अध्यक्ष नरेश कुमार सिन्हा, जिला कोषाध्यक्ष ऋषि राज, अमरिंदर सिंह, पूर्व जिलाध्यक्ष एवं संयोजक तरुण कुमार मंडल, सुमन पंडित, अनुराग कुमार, दिलीप पांडे, तापस मंडल, साधन घोष, मनोज मंडल, बुद्ध पांडे, रोमानी मोहम्मद सुल्तान, राधेश्याम पंडित आदि सैकड़ों कर्मी उपस्थित थे।

Check Also

भुरकुंडा पुलिस ने घरेलु विवाद में युवक को ओपी में बुलाकर जमकर पीटा

🔊 Listen to this भुक्तभोगी ने एसपी से की शिकायत, न्याय की गुहार लगाई शिकायत …