Breaking News

प्रतिस्पर्धात्मक एवं तकनीकी युग में बच्चों को इसके अनुकूल बनाना शिक्षको एवं अभिभावकों का प्रमुख दायित्व: प्राचार्य

रजरप्पा (रामगढ़)। सी.सी.एल. रजरप्पा क्षेत्र स्थित सरस्वती विद्या मंदिर में आज कक्षा दशम एवं द्वादश बोर्ड के परीक्षार्थी भैया -बहनों के अभिभावकों की गोष्ठी संयुक्त रूप से अभिभावक अरविंद कुमार की अध्यक्षता में आयोजित की गई। इसमें उनके साथ भैया – बहनों की शैक्षणिक प्रगति,कक्षा में उनकी उपस्थिति,दिनचर्या, कक्षाकार्य-गृहकार्य की नियमितता, आगामी सी.बी.,एस. ई.बोर्ड परीक्षा की तैयारी, तनाव-मुक्त परीक्षा का वातावरण बनाना, अभिभावकों की अपेक्षाएं एवं सहयोग ,आदि विभिन्न विषयों पर चर्चा हुई।इसमें संबंधित कक्षाचार्य जी द्वारा भैया-बहनों की विभिन्न गतिविधियों की जानकारी दी गयी। विद्यालय के प्राचार्य उमेश प्रसाद ने अभिभावकों को संबोधित करते हुए कहा कि आज के प्रतिस्पर्धात्मक परिवेश एवं तकनीकी युग में बच्चों को उसके अनुकूल बनाने में शिक्षको एवं अभिभावको का दायित्व प्रमुख है। हम मिलकर बच्चों के बेहतर परीक्षाफल के प्रयास करें।कार्यक्रम के अध्यक्ष अरविंद कुमार द्वारा अभिभावकों से बच्चों की दिनचर्या पर ध्यान देने तथा स्नेहपूर्वक मनोबल को बढ़ाने का आग्रह किया गया। द्वादश के कक्षाचार्य राकेश कुमार सहाय जी द्वारा उपस्थित अभिभावकों के प्रति आभार व्यक्त किया गया। गोष्ठी में अमरदीपनाथ शाहदेव, रेखा कुमारी, मिथिलेश कुमार खन्ना, गायत्री कुमारी ,शशिकांत, बचुलाल तिवारी की प्रमुख भूमिका रही।

 

Check Also

अखिल झारखंड प्राथमिक शिक्षक संघ का वनभोज एवं सम्मान समारोह

🔊 Listen to this हजारीबाग। आज 29 जनवरी को अखिल झारखंड प्राथमिक शिक्षक संघ हजारीबाग …