Breaking News

वैक्सीन के संबंध में कांग्रेस पार्टी के द्वारा फैलाये गए भ्रम का दुष्परिणाम है स्वास्थ्य कर्मियों से मारपीट : दीपक प्रकाश

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष एवम सांसद दीपक प्रकाश ने राज्य में टीकाकरण को लेकर फैले भ्रम केलिये कांग्रेस पार्टी को जिम्मेवार ठहराया। श्री प्रकाश ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के नेताओं ने जघन्य अपराध किया है। जिसके लिये उन्हें जनता से माफी मांगनी चाहिये। कहा कि राजधानी से सटे हुए ग्रामीण क्षेत्रों में टीका से सबंधित भ्रम के कारण स्वास्थ्य कर्मियों से मारपीट की जा रही तो फिर सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों में क्या स्थिति होगी।

उन्होंने कहा कि कोरोना संकट के बीच अपनी कड़ी मेहनत के बल पर भारत कर महान वैज्ञानिकों ने कोरोना का स्वदेशी टीका विकसित कर देश का गौरव बढ़ाया। परंतु यही कांग्रेस पार्टी है जिसने वैक्सीन के संबंध में अनेक तरह से भ्रम फैलाये।

उन्होंने कहा कि टीकाकरण के प्रारंभ में कांग्रेस के युवराज राहुल गांधी सहित अनेक वरिष्ठ नेताओं के बयान मीडिया में सार्वजनिक हैं। कांग्रेस के बुद्धिजीवी नेता शशि थरूर ने भी वैक्सीन की खिल्ली उड़ाई।
झारखंड के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने भी अपनी पार्टी के सुर में ही सुर मिलाए।

श्री प्रकाश ने कहा कि आज कांग्रेस शाषित या उनके सहयोग से सरकार चल रही प्रदेशों में वैक्सीन की बर्बादी जग जाहिर है।वैक्सीन को नालियों में बहाने जैसे आपराधिक कृत्य किये जा रहे। उन्होंने कहा कि झारखंड की अधिकांश आबादी गांव में निवास करती है। डायन,विसाही ,ओझा ,गुनी की विसंगतियां पहले से ही ब्याप्त है। ऐसे में छोटा सा दुष्प्रचार भी जंगल की आग की तरह फैल जाताहै।

श्री प्रकाश ने कहा कि राज्य सरकार को फैले दुष्प्रचार के संबंध में कड़े फैसले लेने चाहिये। आज राज्य के आला अधिकारियों सहित सभी ज़िला, प्रखंड,पंचायत स्तर के पदाधिकारियों कर्मचारियों को गांव में जाकर भ्रम को दूर कराने का निर्देश देना चाहिये।  कहा कि सरकार इसमे जनप्रतिनिधियों ,सामाजिक कार्यकर्ताओं का भी सहयोग सुनिश्चित करे।

उन्होंने कहा कि तीव्र गति से टीकाकरण ही कोरोना से मुक्ति का एकमात्र उपाय है।अगर इसमे कोताही की गई तो राज्य को कोरोना के कारण बड़ी क्षति होगी।

Check Also

गिरिडीहः बाबूलाल मरांडी अचानक पहुंचे प्रखंड कार्यालय, कहा- समय पर करें म्यूटेशन के काम

🔊 Listen to this गिरिडीहः तिसरी गांव के लोगों ने पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी से शिकायत …